आधार कार्ड में अब मोबाइल नंबर बदलना हुआ आसान

पर्सनल आईडी के तौर पर Aadhaar Card को आजकल हर जगह सबसे पहले माँगा जाता है- चाहे स्कूल हो, सरकारी ऑफिस हो या अस्पताल, बैंक अकांउट हो या फिर कोई भी सरकारी काम। किसी भी भारतीय के लिए पहचान के तौर पे जो उपयोग होता है वो है उसका आधार कार्ड है। सरकार द्वारा आधार कार्ड में व्यक्ति की सभी डिटेल्स को शामिल किया गया है जैसे आँख कि रेटिना का प्रिंट सभी १० अँगुलियों का प्रिंट तथा अन्य डाक्यूमेंट्स कि डिटेल्स।

यहाँ तक कि आधार कार्ड में यूजर का मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी रजिस्टर कराना भी सरकार द्वारा जरूरी बताया गया है क्योंकि भविष्य में Aadhaar में किसी भी बदलाव के लिए इन्हीं पर OTP यानि वन टाइम पासवर्ड आता है। देश के कई भागों में अभी भी ऐसे लोग हैं, जिन लोगों के आधार में कार्ड में सही मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी रजिस्टर नहीं है। ऐसे ही यूजर्स की परेशानी को कम करने के लिए आधार का कार्यभार संभालने वाली ईकाई UIDAI ने आधार कार्ड में मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी को अपडेट करने की प्रक्रिया अब पहले से कहीं ज्यादा सरल हो गई है क्युकी इसमें कुछ बदलाव किया है जो की लोगो  की सुविधा को ध्यान में रखकर किया गया है ।

भारत में Aadhaar बनाने वाली संस्था Unique Identification Authority of India यानि यूआईडीएआई ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए देश वासियों को इस बदलाव के बारे में सूचित किया है। UIDAI ने यह घोषणा की है कि अब आधार कार्ड में मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी को अपडेट करने का तरीका बदल गया है। जिनके भी आधार कार्ड में गलत मोबाइल नंबर या  ईमेल आईडी  है वो इस बदलाव का लाभ उठाते हुए अपने मोबाइल नम्बरया ईमेल आईडी में संसोधन करा सकते हैं।

क्या है नए नियम में:

यदि आप अपने पुराने मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी को बदलवाना चाहते हैं या नया ऐड कराना चाहते हैं तो अब आपको आधार सेन्टर पर किसी अन्य दस्तावेज की जरुरत नहीं पड़ेगी, सिर्फ आपका ओरिजिनल आधार कार्ड ही मान्य होगा अर्थात अब वोटर कार्ड, बर्थ सर्टिफिकेट या पैन कार्ड  की जरुरत नहीं पड़ेगी।

आधार केंद्र संचालक यूजर का आधार कार्ड देख कर ही ऑनलाइन उसमे वांछित बदलाव कर देगा, जिसका शुल्क यूआईडीएआई  ने मात्र ५० रुपये रखा है। इसके साथ ही नया मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी आधार कार्ड में स्वतः अपडेट हो जाएगी।

UIDAI ने इस बात को साफ तौर पर कहा है कि यदि आधार संचालक आप से किसी अन्य डॉक्यूमेंट कि डिमांड करता है या ज्यादा पैसे कि डिमांड करता है तो आपको उसकी शिकायत तुरंत UIDAI के आधिकारिक व्यक्ति से करना चाहिए।

इस बात का ध्यान रखना जरुरी है कि मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी सही अपडेट हो अन्यथा भविष्य में अन्य कोई अपडेट या बदलाव की जरुरत होने पर आपके मोबाइल या ई-मेल आईडी पर OTP नहीं आ पायेगा फलस्वरूप वेरिफिकेशन प्रक्रिया पूरी नहीं हो पायेगी, और आप के लिए बिना कारण ही समस्या हो जाएगी। अतः जहाँ तक हो सके मोबाइल नंबर देने का प्रयास करें।

Also See: 31 मार्च तक पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करें, नहीं तो भरना पड़ेगा ₹ 10,000 जुर्माना