अमोढ़ा-बस्ती: अमोढ़ा ग्रामवासियों का दिखा गुस्सा, केवल कागजो में हुए काम को लेकर नाराज थे

अमोढ़ा-बस्ती: बस्ती जिले में अमोढ़ा गांव के लोगों ने रास्ता रोक कर विरोध किया, विरोध तेज होता देख जिलाधिकारी सरकारी गाड़ी से निकल गए।

सांसद आदर्श ग्राम अमोढ़ा में विकास कार्यों के निरीक्षण के दौरान  नाराज अमोढ़ा ग्रामवासियों का दिखा गुस्सा, केवल कागजो में हुए काम को लेकर और गांव को खुशहाल और सुन्दर होने के फर्जी आकड़ों को दिखाने से नराज थे ग्रामीण। ग्रामवासियों का कहना है की अगर विकास कार्य सही से नहीं करवाएंगे तो ऐसे ही रास्ता जाम किया जायेगा।

जैसे ‘सच्चाई छुप नहीं सकती बनावट के वसूलों से, खुशबू आ नहीं सकती कागज के फूलों से’ वैसे ही बिना विकास के दिखावा नहीं किया जा सकता। 

जनता विकास कार्य न होने से अमोढ़ा में हुई उग्र और सांसद का घेराव किया, ग्रामीणों का कहना है की अमोढ़ा राजा ज़ालिम सिंह का नगर है जैसे गलत अंग्रेजों के सामने वो नहीं झुके थे वैसे ही हम गलत कार्य होने पर लड़ाई लड़ेंगे और अगर अच्छा काम किया तो हाथो हाथ लिया जायेगा ।

अमोढ़ा ग्रामवासियों ने खुलेआम सांसद जी को दी धमकी (नीचे लिंक में दिया गया वीडियो जरूर देखें)

https://youtu.be/LB6H3mpC090

कुछ ही दिन पूर्व घटना (जनपद में मुख्यमंत्री के जाने के बाद) ग्रामीणों ने नेताओ को दौड़ाया था, कई नेताओं की गाड़ियां टूटी थी, इसी वजह से सांसद और बस्ती जिलाधिकारी ने आक्रोशित ग्रामीणों से कोई बात नही की और मौके से निकल गए, ग्रमीणों ने खुलेआम सांसद जी को धमकी दी की अगर गांव में जाकर रोड का हाल नहीं देखना है तो अमोढ़ा में मत आया करो, ऐसे लोगो की नही जरूरत है अमोढ़ा गाँव में आने की।

अमोढ़ा की सच्चाई जानने के लिए नीचे लिंक में दिया गया वीडियो जरूर देखें (आभार: चंद्रमणि ‘सुदामा’) 

https://youtu.be/fcu_7fzGg-Q

Leave a Reply